विदेश

US Elections 2020: भारतीय मूल की कमला हैरिस को बिडेन ने बनाया उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार

कमला हैरिस बनीं अमेरिका में डेमोक्रेट पार्टी की उपराष्ट्रपति पद की कैंडिडेट

अमेरिकी चुनावों (US Elections 2020: ) के लिए भारतीय मूल की सांसद कमला हैरिस (Kamala Harris) को उप-राष्ट्रपति पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है. राष्ट्रपति पद के लिए डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को टक्कर दे रहे डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन (Joe Bidens) ने मंगलवार को इसका ऐलान कर दिया.

वाशिंगटन. डेमोक्रेट पार्टी ने भी अमेरिकी चुनावों (US Elections 2020: ) के लिए भारतीय मूल की सांसद कमला हैरिस (Kamala Harris) को उप-राष्ट्रपति पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाया है. राष्ट्रपति पद के लिए डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को टक्कर दे रहे डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बिडेन (Joe Bidens) ने मंगलवार को इसका ऐलान कर दिया. इस पद के लिए चुनाव लड़ने वाली वो पहली अश्वेत महिला होंगी. फिलहाल अमेरिका में भारवंशियों का रुख ट्रंप की तरफ माना जा रहा है लेकिन कमला हैरिस की उम्मीदवारी पूरा समीकरण बदल सकती है.

बता दें कि इससे पहले दो बार किसी महिला को उप-राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार बनाया गया था. 2008 में रिपब्लिकन पार्टी ने सारा पैलिन को अपना उम्मीदवार बनाया था और 1984 में डेमोक्रेटिक पार्टी ने गिरालडिन फ़ेरारो का अपना उम्मीदवार बनाया था, लेकिन दोनों ही चुनाव हार गई थीं. अमेरिका की दोनों प्रमुख पार्टियों ने आज तक किसी अश्वेत महिला को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार नहीं बनाया है और आज तक कोई अमरीकी महिला राष्ट्रपति का चुनाव नहीं जीत सकी है. 3 नवंबर को होने जा रहे अमेरिकी चुनाव में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वर्तमान उप राष्ट्रपति माइक पेंस को ही इस बार भी उम्मेदवार घोषित किया है.

अटॉर्नी जनरल रह चुकीं हैं कमला हैरिसकैलिफ़ोर्निया की सांसद कमला हैरिस कैलिफ़ोर्निया की अटॉर्नी जनरल रह चुकी हैं और वो पुलिस सुधार की बहुत बड़ी समर्थक हैं. कमला के नाम का एलन करते हुए बिडेन ने ट्वीट किया- मुझे ये बताते हुए गर्व हो रहा है कि उन्होंने कमला हैरिस को अपना उप-राष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है. और कमला को बहादुर योद्धा और अमेरिका के सबसे बेहतरीन नौकरशाहों में से एक क़रार दिया. बाइडन ने लिखा कि उन्होंने देखा है कि कमला ने कैसे उनके दिवंगत बेटे के साथ काम किया है जब वो कैलिफ़ोर्निया की अटॉर्नी जनरल थीं. बाइडन ने लिखा, ‘मैंने ख़ुद देखा है कि उन्होंने कैसे बड़े-बड़े बैंकों को चुनौती दी, कामगारों की मदद की, और महिलाओं और बच्चों को शोषण से बचाया.’ उन्होंने आगे लिखा, ‘मैं उस वक़्त भी गर्व महसूस करता था और आज भी गर्व महसूस कर रहा हूं जब इस अभियान में वह मेरी सहयोगी होंगी.

उधर कमला हैरिस ने ट्वीट कर बिडेन का शुक्रिया अदा करते हुए कहा, ‘बिडेन अमरीकी लोगों को एक कर सकते हैं क्योंकि उन्होंने हमलोगों के लिए लड़ते हुए अपनी पूरी ज़िंदगी लगा दी. और राष्ट्रपति के तौर पर वो एक ऐसा अमेरिका बनाएंगे जो कि हमारे आदर्शों पर खरा उतरेगा.’ हैरिस ने आगे लिखा, ‘मैं अपनी पार्टी की तरफ़ से उप-राष्ट्रपति के उम्मीदवार की हैसियत से उनके साथ शामिल होने पर गर्व महसूस करती हूं और उनको अपना कमांडर-इन-चीफ़ (राष्ट्रपति) बनाने के लिए जो भी करना पड़ेगा वो करूंगी..

कमला हैरिस हैं मजबूत नेता
माना जा रहा है कि 55 वर्षीय कमला हैरिस का भारतीय होना उनकी सबसे बड़ी मजबूती है. कमला की मां भारत के तमिलनाडु राज्य की थीं. डेमोक्रेट्स कमला की भारतीय छवि को भुनाना चाहती है और ट्रंप को चैलेन्ज करने के लिए कमला की छवि महिला अधिकारों के लिए लड़ने वालीं मजबूत नेता की है जबकि दूसरी तरफ ट्रंप महिलाओं के मामले में काफी बदनाम माने जाते हैं. इसके अलावा कमला के पिता जमैका के थे. यानी अफ्रीकन मूल के अश्वेत वोटर्स भी कमला और उनके परिवार को अपना मानते हैं, ऐसे में ये डेमोक्रेट्स को फायदे का सौदा नज़र आ रहा है.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close