देश

Rajat Sharma’s Blog: सुशांत की मौत का रहस्य दिन-ब-दिन गहराता ही जा रहा है

Image Source : INDIA TV
India TV Chairman and Editor-in-Chief Rajat Sharma.

ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के पीछे का रहस्य दिन-ब-दिन गहराता ही जा रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुशांत की बहन मीतू सिंह ने बिहार पुलिस को बताया है कि सुशांत की दोस्त रिया चक्रवर्ती काला जादू करती थी और वह ‘तांत्रिक’ को अपार्टमेंट में लाती थी। उन्होंने पुलिस को बताया कि जब भी तांत्रिक जादू-टोना करने आते थे, तब फ्लैट में मौजूद अन्य सभी लोगों को बाहर जाने के लिए कहा जाता था। मीतू ने पुलिस को बताया कि सुशांत की बहन होने के बावजूद उन्हें अपने भाई से मिलने अंदर जाने के पहले घंटों तक फ्लैट के बाहर इंतजार करने के लिए कहा जाता था।

मीतू सिंह ने बिहार पुलिस के सामने आरोप लगाया कि रिया और उसकी मां संध्या चक्रवर्ती सुशांत पर जादू-टोना करने के लिए बंगाली तांत्रिक को अक्सर अपार्टमेंट में ले आती थीं। सुशांत के घर के नौकर और खाना बनाने वाले ने भी मितू के आरोपों की पुष्टि की है। मीतू सिंह ने आरोप लगाया है रिया ही तांत्रिक को लेकर आती थी और बाद में उसने सुशांत को एक ताबीज भी दिया था। मीतू ने बिहार पुलिस को बताया कि ज्यादातर वक्त रिया की मां संध्या भी सुशांत के फ्लैट में रहती थी और आने-जाने वालों पर नजर रखती थी। मीतू ने पुलिस को बताया कि रिया की मां की मौजूदगी सुशांत को पसंद नहीं थी। उन्होंने आरोप लगाया कि रिया को सुशांत के परिवार वाले पसंद नहीं थे और इस मुद्दे पर दोनों के बीच अक्सर अनबन रहती थी।

इस बीच प्रवर्तन निदेशालय ने सुशांत के मामले के बारे में डीटेल मांगी है। बिहार पुलिस के जांचकर्ताओं ने गुरुवार को मुंबई में 3 प्राइवेट बैंकों, कोटक महिंद्रा बैंक, एचडीएफसी बैंक और आईसीआईसीआई बैंक में गए और दिवंगत अभिनेता के अकाउंट से जुड़ी सभी ट्रांजिक्शंस की डीटेल इकट्ठा की। गौरतलब है कि सुशांत के पिता ने आरोप लगाया था कि एक साल के भीतर सुशांत के बैंक खातों से कुल 15 करोड़ रुपये निकाले गए थे।

बिहार पुलिस टीम ने सुशांत और रिया द्वारा बनाई गई कंपनियों के बारे में भी जानकारी इकट्ठा की है, जिनमें रिया के भाई शौविक चक्रवर्ती और उनके पिता प्रमोटर थे। रिया की करीबी सहयोगी श्रुति मोदी ने कंपनी के अधिकांश दस्तावेजों पर गवाह के रूप में दस्तखत किए हैं, क्योंकि वही इन कंपनियों का कामकाज देख रही थी। सुशांत के पिता ने अपनी एफआईआर में श्रुति मोदी का नाम भी लिया है, और बिहार पुलिस पूछताछ के लिए उसे बुला सकती है। वह रिया और उसके भाई की मैनेजर भी थी।

सबसे ज्यादा हैरानी की बात यह है कि बिहार पुलिस की टीम ने 3 दिनों में मामले के बारे में ऐसे खुलासे किए हैं, जो मुंबई पुलिस पिछले 46 दिनों के दौरान नहीं कर पाई थी। सुप्रीम कोर्ट में रिया चक्रवर्ती के साथ एक कानूनी लड़ाई भी चल रही है, जिसमें सुशांत के पिता द्वारा पटना में दर्ज करवाई गई FIR की जांच को मुंबई पुलिस के हवाले करने की मांग की गई है। हालांकि, बिहार सरकार और सुशांत सिंह के पिता ने इस याचिका का विरोध करते हुए सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की है। बिहार सरकार इस मामले के लिए वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी को लगाया है।

सुप्रीम कोर्ट के समक्ष अपनी याचिका में रिया चक्रवर्ती ने कहा है कि वह 8 जून तक एक साल के लिए सुशांत सिंह राजपूत के साथ लिव-इन रिलेशनशिप में थी, और इसके बाद अपने घर चली गई थी। रिया की याचिका के मुताबिक, ‘मृतक कुछ समय से डिप्रेशन से पीड़ित था एवं इसकी दवाएं ले रहा था और उसने 14 जून को अपने बांद्रा स्थित आवास पर आत्महत्या कर ली।’ रिया ने यह कहते हुए FIR मुंबई पुलिस को ट्रांसफर करने की मांग की है कि इस मामले में पूछताछ करना बिहार पुलिस के अधिकार क्षेत्र में नहीं है क्योंकि यह घटना मुंबई में हुई थी।

सुशांत की मौत अभी भी अखबारों की सुर्खियां बटोर रही है क्योंकि उनकी मौत से जुड़ी परिस्थितियां अभी भी रहस्य बनी हुई हैं। सुशांत एक सफल, युवा, मेधावी और मजबूत इरादों वाले अभिनेता थे। यह रहस्य अभी तक उजागर नहीं हो पाया है कि उन्होंने आत्महत्या क्यों की। क्या वह दबाव में काम कर रहे थे? अब सारे तथ्य धीरे-धीरे सामने आ रहे हैं। पिछले 44 दिनों से कुछ ऐसे लोग झूठी हवा-हवाई बातें और कॉन्सपिरेसी थियरी फैला रहे थे जो शायद ही सुशांत को जानते थे। जिस व्यक्ति को सबसे ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा, वह सुशांत के पिता कृष्ण किशोर सिंह थे, क्योंकि उन्होंने अपना बेटा खो दिया है। जब सुशांत के पिता ने अपनी एफआईआर में रिया के खिलाफ आरोप लगाए, तो बॉलीवुड में सन्नाटा छा गया।

पिछले 44 दिनों में मुंबई पुलिस ने न तो कभी इस ऐंगल के बारे में सोचा और न ही इस दिशा में काम किया। जांचकर्ता केवल बॉलीवुड के बड़े नामों, निर्देशकों और ऐक्टरों को अपने बयान दर्ज करने के लिए बुलाते थे और उन्हें घंटों बैठाए रखते थे। इसके उलट बिहार पुलिस के जांचकर्ताओं ने बहुत ही तेजी से काम किया और सारी डीटेल इकट्ठा की। ऐसी अफवाहें उड़ीं कि रिया फरार हो गई है, कुछ लोगों ने आरोप लगाया कि कुछ लोग पर्दे के पीछे से रिया की मदद कर रहे हैं, लेकिन बिहार पुलिस ने इन अटकलों को खारिज कर दिया है। एक आरोप यह भी लगा कि मुंबई पुलिस का कोई बड़ा अधिकारी रिया की मदद कर रहा था, लेकिन बिहार पुलिस के पास इसे मानने का कोई आधार नहीं है।

बिहार पुलिस ने कहा है कि वह रिया से सही समय पर पूछताछ करेगी, लेकिन इस समय वह कुछ जरूरी सुरागों का पता लगाना चाहती है। वह सुशांत के पिता द्वारा अपनी FIR में उठाए गए सवालों के जवाब तलाशने की कोशिश कर रही है। जैसे कि क्या रिया ने सुशांत को अपने परिवार से दूर रखने की कोशिश की? क्या उसने सुशांत के अकाउंट से 15 करोड़ रुपये निकाले हैं? क्या रिया ने बॉलीवुड के प्रोड्यूसर्स पर सुशांत के लिए आने वाले ऑफर में खुद को महिला लीड के रूप में साइन करने पर जोर दिया? रिया ने अपनी याचिका में इनमें से कुछ सवालों के जवाब देने की कोशिश की है, लेकिन कुछ जरूरी सवालों के जवाब मिलने अभी भी बाकी हैं। जैसे कि सुशांत के सुसाइड करने से 6 दिन पहले रिया फ्लैट छोड़कर क्यों चली गई थी?

कुल मिलाकर ऐसा लगता है कि अब सारा विवाद सुशांत और रिया के परिवारों के बीच का हो गया है। अब तक बॉलीवुड के बड़े नामों द्वारा नेपोटिज्म और फेवरटिज्म के आरोपों के बारे में और सुशांत द्वारा फिल्मों से बाहर किए जाने के बारे में बात हो रही थी, लेकिन सुशांत के पिता द्वारा पटना में FIR दर्ज करवाने के बाद ये बातें बेमानी साबित हुई हैं। 44 दिनों तक मुंबई पुलिस लगातार इस दिशा में हाथ-पैर मार रही थी, और उसने बॉलीवुड के दिग्गजों से पूछताछ भी की ताकि यह पता लगाया जा सके कि नेपोटिज्म के बारे में फैलाई जा रही कॉन्सपिरेसी थियरी में सच्चाई है या नहीं। लेकिन इससे भी कुछ पता नहीं चला। मुझे आशा है कि सच्चाई जल्द ही सामने आ जाएगी। (रजत शर्मा)

देखें: ‘आज की बात, रजत शर्मा के साथ’ 30 जुलाई, 2020 का पूरा एपिसोड

कोरोना से जंग : Full Coverage




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close