मध्य प्रदेश

MP में नया पॉलिटिकल ट्विस्ट, बीजेपी और कांग्रेस के बीच लेटर वार, जानें क्या है मामला

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पीएम मोदी को एक चिट्ठी लिखी है. (File Photo)

वीडी शर्मा (VD Sharma) ने लिखा कि, यह आपके संस्कारों का प्रतीक है कि प्रधानमंत्री (PM Narendra Modi) जैसे पद पर विराजमान व्यक्ति को आप प्रिय कहकर संबोधित कर रहे हैं. कमलनाथ (Kamalnath) ने अपनी चिट्ठी में कांग्रेस विधायकों के इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल होने को लेकर लोकतंत्र की दुहाई दी थी.

भोपाल. लंबे अंतराल के बाद मध्य प्रदेश में चिट्ठी पॉलिटिक्स (Letter Politics) का दौर फिर लौट आया है. पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को लिखी गई चिट्ठी के जवाब में अब बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) को एक चिट्ठी लिखी है. इस चिट्ठी में विष्णु दत्त शर्मा की ओर से कमलनाथ को लोकतंत्र की दुहाई देने पर जवाब दिया गया है चिट्ठी के पहले पैरा में ही वीडी शर्मा ने कमलनाथ के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत में प्रिय के संबोधन पर सवाल खड़े किए हैं. कमलनाथ की पीएम को लिखी चिट्ठी में उन्हें प्रिय संबोधन पर आपत्ति जताते हुए वीडी शर्मा ने लिखा है  हमारे संस्कारों में तो प्रिय केवल बराबरी या फिर छोटे लोगों के लिए लिखा जाता है.

वीडी शर्मा ने लिखा कि, यह आपके संस्कारों का प्रतीक है कि प्रधानमंत्री जैसे पद पर विराजमान व्यक्ति को आप प्रिय कहकर संबोधित कर रहे हैं. कमलनाथ ने अपनी चिट्ठी में कांग्रेस विधायकों के इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल होने को लेकर लोकतंत्र की दुहाई दी थी. इस पर बीडी शर्मा ने लिखा है कि अप्रजातांत्रिक चर्चा करने में क्या आपको लज्जा नहीं आती ? देश में आपातकाल लगाने की वकालत करने वाले किरदारों में आप भी थे. 105 राज्य सरकारों को गिराने का काला इतिहास कांग्रेस ने देश में लिखा है. वी ड शर्मा ने अपने खत में कमलनाथ को कांग्रेस छोड़ने वाले नेताओं का इतिहास भी बताया है.

कमलनाथ ने दी थी लोकतंत्र की दुहाई

विधायकों के इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल होने पर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक खत लिखा था. इसमें उन्होंने प्रदेश में बीजेपी पर विधायकों को प्रलोभन देकर बीजेपी में शामिल कराने को अनैतिक कृत्य के साथ प्रदेश की जनता पर उपचुनाव का बोझ डालने की साजिश बताई थी. कमलनाथ ने लोकतंत्र की गिरती हुई साख को बचाने के लिए पीएम मोदी को आगे आने को कहा था.कौन-कौन विधायक बीजेपी में शामिल

कांग्रेस के 22 विधायकों के ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ बीजेपी में शामिल होने के बाद भी पार्टी से  इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल होने का सिलसिला जारी है. पिछले 15 दिनों में तीन विधायक अपनी विधायकी से इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो चुके हैं. सबसे पहले बड़ा मलहरा से विधायक प्रद्युम्न सिंह लोधी ने इस्तीफा दिया. फिर उसके बाद नेपानगर से विधायक सुमित्रा देवी ने अपने विधायकी से इस्तीफा देकर बीजेपी ज्वाइन कर ली. इसके बाद मांधाता विधायक नारायण पटेल भी इस्तीफा देकर बीजेपी में शामिल हो गए हैं.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close