स्पोर्ट्स

हमेशा समाज को कुछ वापस देना चाहता हूं : जेजे लालपेखलुआ

Football
Image Source : TWITTER/@INDIANFOOTBALL

भारतीय फुटबॉल टीम के स्ट्राइकर जेजे लालपेखलुआ का मानना है कि इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) ने देश में फुटबॉलरों को अधिक पहचान दिलाने में मदद की है। उन्होंने कहा कि इससे जब वे सामाजिक कार्य करने और समाज को कुछ वापस देने की इच्छा रखते हैं, खासकर कोविड-19 महामारी के दौरान तो वे अधिक भुगतान करते हैं।

लालपेखलुआ ने आईएसएल मीडिया से कहा, “आईएसएल ने खिलाड़ियों को फुटबॉल के क्षेत्र में सम्मान और मान्यता प्रदान की है। मेरे लिए, मैंने भी भारत के हर फुटबॉलर की तरह ही अपना करियर शुरू किया था और कोलकाता में खेलना चाहता था क्योंकि वे वहां अपने फुटबाल से प्यार करते हैं और अगर आप अच्छे हैं तो आपको भारी समर्थन मिलता है।”

उन्होंने कहा, “उस समय से चीजें आगे बढ़ी है। अगर लोग आपको समाज में पहचानते हैं, तो चीजें बेहतर हो जाती हैं। अगर लोग जानते हैं कि मैं कौन हूं, तो चीजें आसान हो जाती हैं। पहले यह मुश्किल था, लेकिन अब भारतीय फुटबॉल में आप बहुत बेहतर वेतन कमा सकते हैं और साथ ही समाज को भी वापस कुछ दे सकते हैं।”

लालपेखलुआ ने कहा, ” मैं हमेशा समाज को वापस देने के उद्देश्य से फुटबॉल में अपना करियर बनाना चाहता था। मैं अपनी दादी से प्रेरणा लेता हूं, जिन्होंने मेरे गांव के कई लोगों की मदद की।”

भारतीय फुटबॉलर ने कहा, “उन्होंने जो किया मैं भी वैसा ही करना चाहता था। जब मैं उतना नहीं कमाता था, तब भी मैं अपनी मदद करता था, जितना कि मैं कर सकता था। मैं भाग्यशाली हूं कि मैं और अधिक मदद करने के योग्य हूं।”

आईएसएल का सातवां सीजन नवंबर के तीसरे सप्ताह से शुरू होगा।

 


Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close