विदेश

‘हन्ना’ हरिकेन टेक्सास तट से टकराया, मियामी में मचा सकता है तबाही

वाशिंगटन. अमेरिका के नेशनल हरिकेन सेंटर (National Hurricane Centre)  ने ‘हन्ना’ तूफान (Hanna Hurricane) आने की चेतावनी दी थी और यह कहा था कि यह शनिवार की दोपहर या शाम तक दक्षिणी टेक्सास तट (Texax Coast) पर टकराएगा. हन्ना शनिवार की सुबह पहली बार टेक्सास तट से टकराया और दूसरी बार यह दोपहर में से 15 मील दूर उत्तर-उत्तर पश्चिम मैन्सफील्ड कैनेडी काउंटी पूर्व तट से टकराया. यह बताया जा रहा है कि अमेरिका में उष्णकटिबंधीय चक्रवात ‘हन्ना’ विकराल रूप ले चुका है. हवा करीब 145 किलोमीटर प्रति घंटे के आसपास की गति से चल रही है. यह अनुमान किया जा रहा है कि मियामी के आसपास यह भारी तबाही मचा सकता है. वहीं इससे कारण बड़े-बड़े बवंडर उठने का खतरा पैदा हो गया है. मौसम विभाग के अलर्ट के बाद से लोग दहशत में हैं।

टेक्सास में 10 इंच तक बारिश हो सकती है

तूफान दूसरी बार मैन्सफील्ड के उत्तर में 24 किलोमीटर दूर पादरे द्वीप से दोपहर में टकराया. इस समय हवा की गति 209 किलोमीटर प्रति घंटे की गति थी. मौसम विभाग ने कहा है कि टेक्सास में 5 से 10 इंच तक बारिश हो सकती है। इससे तटीय इलाके पूरी तरह से प्रभावित हो सकते हैं. इससे यहां जानमाल का खतरा है. क्लोराडो स्टेट यूनिवर्सिटी के तूफान शोधकर्ता फिल क्लॉटजबैक के मुताबिक, हन्ना आठ अटलांटिक चक्रवातों का रिकॉर्ड तोड़ सकता है.

नेशनल हरिकेन सेंटर ने इसके आने की घोषणा कीअमेरिका के नेशनल हरिकेन सेंटर ने शनिवार तड़के कहा कि हन्ना तूफ़ान टैक्सस के कॉरपस क्रिस्टी से 140 मील (225 किलोमीटर) पूर्व-दक्षिण पूर्व में केंद्रित था. इस तूफान में अधिकतम 65 मील प्रति घंटे (100 किलोमीटर प्रति घंटे) की रफ्तार से हवाएं चली थीं और यह 8 मील प्रति घंटे (13 किलोमीटर प्रति घंटे) की गति से पश्चिम की ओर बढ़ रहा था.

1.5 मीटर तक ऊँची तूफानी लहरों के आने की उम्मीद

इस तूफान की चेतावनी पोर्ट मैन्सफील्ड से मेस्काइट बे क्षेत्र के लिए है जिसमें कॉर्पस क्रिस्टी भी शामिल हैं. इस उष्णकटिबंधीय तूफान की चेतावनी बारा एल मेज़क्विटल, मैक्सिको से पोर्ट मैन्सफील्ड तक और टैक्सस और मेस्काइट बे से हाई आइलैंड, टेक्सास तक प्रभावी है. तूफ़ान से बफ़िन बे से सार्जेंट में बड़ी बड़ी लहरों के आने की चेतावनी दी गई है. इस क्षेत्र में 5 फ़ीट या 1.5 मीटर तक की ऊँची तूफानी लहरों के आने की उम्मीद है. लोगों को अपना जीवन और अपनी संपत्ति को लहरों से बचाने की सलाह दी गई है.

हन्ना के कारण समुद्र में ऊँची लहरें उठ सकती हैं

मौसम के पूर्वानुमानकर्ता का मानना है कि हन्ना के कारण रविवार रात 5 से 10 इंच (13 से 25 सेंटीमीटर) बारिश होने की संभावना है. हन्ना के कारण भयानक और ऊँची लहरों के आने का अनुमान है जो जीवन को घातक परिस्थितियों में डाल सकती हैं. कोलोराडो स्टेट यूनिवर्सिटी के हरिकेन सम्बन्धी शोधकर्ता फिल क्लॉटज़बैक के अनुसार हैना ने अभी हाल के आठवें अटलांटिक तूफान का रिकॉर्ड तोड़ा.

ये भी पढ़ें: केरल और कर्नाटक में ISIS आतंकवादियों की ‘काफी संख्या’ में मौजूदगी : संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट

Gay का लिंग परिवर्तन कराना हुआ अब अपराध, पांच साल की होगी जेल

क्लॉटज़बाक ने ट्वीट किया है और लिखा है कि पिछला रिकॉर्ड 3 अगस्त 2005 को हार्वे का था. अटलांटिक तूफ़ान या उष्णकटिबंधीय तूफ़ान (Tropical Storm)एक उष्णकटिबंधीय चक्रवात है जो आमतौर पर जून से नवंबर महीनों के बीच बनते हैं. उष्णकटिबंधीय तूफ़ान गोंजालो भी अटलांटिक तूफ़ान है जिस का नाम अंग्रेजी वर्णमाला में अपनी जगह के कारण रखा गया है. पिछला रिकॉर्ड उष्णकटिबंधीय तूफ़ान गर्ट द्वारा बना जो 24 जुलाई 2005 को आया था. इस साल अभी तक, क्रिस्टोबल, डेनिएल, एडोअर्ड और फे ने अपने अल्फाबेटिक ऑर्डर के कारण अटलांटिक तूफान के शुरुआती नाम होने का रिकॉर्ड बनाया.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close