उज्जैन न्यूज़धार्मिकप्रशासनिकराजनीतिसामाजिक

‘श्री चिड़ार एप्प’’, अब घर बैठे समाजजन तलाश सकेंगे विवाह योग्य युवक-युवती

नशे से दूर रहें, शिक्षित हों, दहेज न लें- न दें- जेएल सुंदरे
उज्जैन। आज कल लड़का-लड़की देखने, जाने-आने में इतना खर्चा होता है, जिसकी कोई सीमा नहीं। लोगों का पैसा बचाने के लिए सरकारों ने सामूहिक विवाह सम्मेलन प्रारंभ किये, इससे पहले से समाज के लोग भी सामूहिक विवाह करते आ रहे हैं इसके पीछे एक ही उद्देश्य है, कम खर्चा हो और काम अच्छा हो। चिड़ार समाज द्वारा विवाह योग्य युवक-युवतियों के लिए ‘‘श्री चिड़ार एप्प’’ लांच किया गया यह बड़ी बात है। इस युग में ऐसे एप्प की आवश्यकता है, आज सबके पास मोबाईल है, शायद ही कोई ऐसा होगा जिसके पास मोबाईल न हो, इस एप्प के माध्यम से समाज के लोगों को घर बैठे जानकारी मिल जाएगी। 
उक्त बात नृसिंह घाट पर आयोजित श्री चिड़ार समाज के नववर्ष मिलन समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व केबिनेट मंत्री एवं विधायक पारस जैन ने कही। समारोह में विशेष अतिथि के रूप में चिड़ार समाज के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष जे एल सुंदरे, श्री चिड़ार समाज पारमार्थिक ट्रस्ट इंदौर के अध्यक्ष नितीन गेहलोत मौजूद रहे। अध्यक्षता समाज संरक्षक रामेश्वर गोईया ने की। कार्यक्रम संयोजक धर्मेन्द्र गोईया, मोहन चंदेल, संतोष ब्रामनिया, संदीप हनुमन्तैया, दीपक धंधेरे ने बताया कि इंदौर, मंडीदीप, भोपाल, गुना सहित अन्य जिलों से पधारे समाजसेवकों की मौजूदगी में समाज के विवाह योग्य युवतियों के लिए श्री चिड़ार एप्प लांच किया गया। समारोह में मार्गदर्शन देते हुए समाज के प्रथम राष्ट्रीय अध्यक्ष जेएल सुंदरे ने आव्हान किया कि समाज से दहेज प्रथा जैसी कुरीति को मिटाया जाये, न दहेज लें न दहेज दें। वहीं आपने समाज के हर वर्ग से अपील की कि अपने बच्चों को शिक्षित करें और नशे से दूर रहें, क्योंकि नशे के कारण आज परिवार बर्बाद हो रहे हैं। समाज संरक्षक हरिनारायण हनुमन्तैया ने संबोधित करते हुए कहा कि हमें समाज के सबसे निचले स्तर पर रह रहे समाजजनों के लिए विचार करना है, हम उनके लिए जो अच्छे से अच्छा कर सकते हैं करें। नितीन गेहलोत ने कहा श्री चिड़ार एप्प कारगर साबित होगा, देश आधुनिकता और डिजिटलाईजेशन की ओर बढ़ रहा है, हम भी उसका उपयोग करें। यह सोच बड़ी साबित होगी, श्री चिड़ार एप्प से परिचय सम्मेलन में जो लाखों रूपया खर्चा होता है वह खर्च बचेगा और समाज के दूसरे काम में आएगा। युवक-युवतियों को अपना जीवन साथी चुनने के लिए एक उचित प्लेटफार्म मिलेगा। नववर्ष मिलन समारोह को समाज संचालक भागचंद कुमेरिया, भगवानदास ब्रामनिया, प्रेमनारायण आठिया, अरूण बेलर भोपाल, राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रघुवीर चिड़ार भोपाल, ट्रस्ट संरक्षक पवन गेहलोत इंदौर ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर देवेन्द्र गेहलोत, रोहित गेहलोत, गोपाल वर्मा इंदौर, रामेश्वर गेहलोत गुना विशेष रूप से मौजूद रहे। अतिथियों का स्वागत समाज के वरिष्ठ रामदयाल गोईया, महेशचंद्र आठिया, जमना वर्मा, रामकिशन भरतरिया, विजय हनुमन्तैया, रवि चिड़ार, प्रेमनारायण हनुमन्तैया, प्रेमनारायण बरहा, बंटी गेहलोत, दीपक गेहलोत, कमलेश धंधेरे, हरीश आठिया, बारेलाल ने किया। कार्यक्रम के अंत में आभार नारायण आठिया ने माना। इस अवसर पर संतोष गेहलोत, सत्यनारायण आठिया, भारतसिंह, गजराजसिंह, किरण गोहिया, शंकरलाल हरदास, हरप्रसाद चंदेल, अजय आठिया, शैलेन्द्र हनुमन्तैया, निहालसिंह, सुजानसिंह कुशा, कृष्णकुमार चंदेल, विनय चंदेल, शुभम गोईया, देवीसिंह गोईया, योगेश चंदेल, डॉ. राकेश शेरा, सुनील धंधेरे, डॉ. हरिराम चिड़ार, आशाराम, कल्याणसिंह, अंकित ब्रामनिया, रामदयाल चंदेल, घनश्याम बेलिया, राहुल आठिया आदि मौजूद रहे। 
जिलाध्यक्ष, समाजसेवी अपने-अपने शहर में निभाएंगे जिम्मेदारी
बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन से लांच हुआ यह एप्प देशभर में फैले संपूर्ण चिड़ार समाज को समर्पित रहेगा। इस एप्प पर किसी का विशेषाधिकार नहीं होगा। इस एप्प पर प्रविष्टि डलवाने की जिम्मेदारी प्रत्येक शहर, जिले में समाजसेवा करने वाले जिलाध्यक्षों, समाजसेवियों की रहेगी। वे ही अपने क्षेत्र में निवासरत समाजजनों के बायोडाटा एकत्रित करेंगे।

Related Articles

Back to top button
Close