स्पोर्ट्स

वर्ल्ड कप स्थगित होने के बावजूद झूलन गोस्वामी ने नहीं छोड़ी है टूर्नामेंट में खेलने की उम्मीद

Image Source : GETTY IMAGES
वर्ल्ड कप स्थगित होने के बावजूद झूलन गोस्वामी ने नहीं छोड़ी है टूर्नामेंट में खेलने की उम्मीद

नई दिल्ली। भारत की मुख्य तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी 2022 तक स्थगित हुए महिला विश्व कप तक 39 वर्ष की हो जायेंगी लेकिन वनडे में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाली इस खिलाड़ी ने इस टूर्नामेंट में भाग लेने की उम्मीद नहीं छोड़ी है और उनका कहना है कि वह लगातार प्रदर्शन करते हुए टीम में जगह बनाने की कोशिश करेंगी।

झूलन और भारतीय कप्तान मिताली राज जैसी महिला धुरंधरों के लिये न्यूजीलैंड में 2021 विश्व कप अंतिम होने की उम्मीद थी। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की शुक्रवार को घोषणा के बाद मिताली ने ट्वीट किया कि 12 महीने के स्थगन से उनकी टीम को तैयारियों के लिये काफी समय मिल जायेगा क्योंकि कोविड-19 महामारी ने उनकी योजनाओं को बुरी तरह प्रभावित किया है और उनका लक्ष्य हमेशा अपना पहला विश्व कप खिताब जीतने का होगा। 

झूलन भी मिताली की तरह 37 साल की हैं, वह भी 18 महीने बाद न्यूजीलैंड में खेलना चाहती हैं लेकिन उनका कहना है कि टूर्नामेंट तक उनकी फिटनेस और उनका प्रदर्शन ही यह तय करेगा। झूलन ने पीटीआई से कहा, ‘‘हमारे पास तैयारी के लिये काफी समय है, करीब 18 महीने, लेकिन दूसरी ओर अगर यह अगले साल ही होता तो यह अच्छा होता क्योंकि मैं लंबे समय से इस पर ध्यान लगाये थी। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘अब आपको इसके आगे के बारे में सोचने की जरूरत होगी। हमने पिछले पांच-छह महीने से कोई क्रिकेट नहीं खेला है और मेरे जैसी खिलाड़ी (जो केवल वनडे खेलती हैं) ने नवंबर (2019) में ही टूर्नामेंट खेला था क्योंकि सभी टीमें विश्व कप (2020 में आस्ट्रेलिया में फरवरी-मार्च) से पहले टी20 खेली थीं। ’’ 

क्या वह खुद को 2022 संस्करण में खेलते हुए देखती हैं? तो उन्होंने कहा, ‘‘भारत के लिये खेलना सबसे बड़ा सम्मान है। हां, 2022 अभी लक्ष्य बना हुआ है, लेकिन आपको इस प्रक्रिया का हिस्सा होना चाहिए और लगातार मैच खेलते हुए प्रदर्शन करना चाहिए। इसके बाद ही आप विश्व कप के बारे में सोच सकते हो क्योंकि अभी काफी समय बचा है और यह करीब नहीं है।”

कोरोना से जंग : Full Coverage




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close