मध्य प्रदेश

रीवा की बेटी खुशी सिंह की ऊंची उड़ान, एमपी बोर्ड की 12वीं की परीक्षा में बनी स्टेट टॉपर

किसान परिवार में पली-बढ़ी खुशी सिंह ने 12वीं के कला संकाय के परीक्षा नतीजों में 500 में से 486 अंक हासिल किए हैं

मेरिट लिस्ट (Merit List) में टॉप पोजीशन हासिल करने वाली खुशी सिंह (Topper Khushi Singh) कला संकाय (आर्ट्स) की स्टूडेंट हैं. उन्हें 500 में से कुल 486 अंक प्राप्त हुए हैं जो इस संकाय में सबसे ज्यादा है. रीवा की बेटी खुशी सिंह भविष्य में शिक्षक बनना चाहती हैं

रीवा. माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश के द्वारा बारहवीं के घोषित परीक्षा परिणाम (MP Board MPBSE 12th Result 2020) में रीवा जिले (Rewa District) के तराई अंचल त्योंथर के चुनरी गांव की रहने वाली खुशी सिंह ने प्रदेश भर में पहला स्थान (State Topper) अर्जित किया है. त्योंथर कस्बे की शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में पढ़ने वाली खुशी सिंह (Khushi Singh) की इस सफलता से परिवार समेत पूरे जिले में खुशी का माहौल है.

मेरिट लिस्ट में टॉप पोजीशन हासिल करने वाली खुशी सिंह कला संकाय (आर्ट्स) की स्टूडेंट हैं. उन्हें 500 में से कुल 486 अंक प्राप्त हुए हैं जो इस संकाय में सबसे ज्यादा है. खुशी ने बताया की इसका श्रेय वो अपने विद्यालय के शिक्षकों और परिवार के लोगों को देना चाहेंगी. उसने यह भी बताया कि लॉकडाउन के चलते परीक्षा में विलंब होने से उसे इसलिए कोई फर्क नहीं पड़ा क्योंकि उसने पहले ही अपना कोर्स कंप्लीट कर लिया था.

रीवा की बेटी खुशी सिंह भविष्य में शिक्षक बनना चाहती हैं. एक किसान परिवार में पली-बढ़ी खुशी सिंह हमेशा ही पढ़ाई-लिखाई में टॉपर रही हैं. मगर उसे स्कूल तक आने-जाने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ा. इसके बावजूद उसने अपनी मेहनत से कामयाबी की ऊंचाइयों को छुआ है.

MP Board Result, MPBSE 12th Results 2020, MP Board intermediate Results 2020, Madhya Pradesh School Results, MP barahvi ka Result 2020, 12th Result MP, MP Board barahvi ka result 2020, एमपी 12th रिजल्ट 2020, 12वीं एमपी रिजल्ट 2020

इस साल कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से एमपी बोर्ड के नतीजे जारी होने में देरी हुई (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

एमपी बोर्ड के 12वीं के परीक्षा परिणाम में लड़कियों ने मारी बाजी

बता दें कि सोमवार को माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश के द्वारा कक्षा 12वीं के परीक्षा परिणाम घोषित हुए. नतीजों में लड़िकयों का बोलबाला रहा. वहीं रीवा जिले के लगभग 65 प्रतिशत छात्र सफल हुए हैं.

एमपी बोर्ड की 12वीं क्लास की परीक्षा में इस बार प्रदेश के साढ़े आठ लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स ने हिस्सा लिया था. कोरोना वायरस की वजह से इस साल परीक्षाएं दो हिस्सों में आयोजित की गईं थीं. 12वीं की परीक्षाओं की शुरुआत दो मार्च से हुई थी, लेकिन कोरोना वायरस के चलते 19 मार्च तक वैकल्पिक विषयों समेत 17 विषयों के एग्जाम ही आयोजित किए गए. बाद में शेष बची परीक्षाएं नौ से 16 जून तक कराई गईं थी.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close