देश

राजस्थान के घटनाक्रम को लेकर कांग्रेस का दिल्ली में प्रदर्शन, कई नेता हिरासत में लिए गए

Image Source : PTI
Congress workers protest against Rajasthan Governors decision to not call Assembly session

नयी दिल्ली: राजस्थान में चल रहे सियासी उठापटक के बीच भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस आज पूरे देश में धरना प्रदर्शन कर रही है। कोंग्रेस ने पूरे देश भर में लोकतंत्र बचाओ संविधान बचाओ को लेकर धरना प्रदर्शन किया। हरियाणा कांग्रेस कमेटी ने भी जिला स्तर पर धरना प्रदर्शन किया। पंचकूला में कुमारी शैलजा की आने की बात कही गई थी लेकिन वह इस धरना प्रदर्शन में उपस्थित नहीं हुईं।

वहीं कांग्रेस की दिल्ली इकाई के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भी यहां प्रदर्शन किया। हालांकि, इन लोगों को पुलिस ने उस वक्त हिरासत में ले लिया जब इन्होंने उप राज्यपाल के कार्यालय की तरफ बढ़ने की कोशिश की। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार के नेतृत्व में पार्टी के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। 

कुमार ने कहा कि यह विरोध प्रदर्शन राजस्थान में भाजपा के लोकतंत्र एवं संविधान विरोधी कदमों के खिलाफ था। उन्होंने कहा, ‘‘हम उप राज्यपाल महोदय को बताना चाह रहे थे कि भाजपा और केंद्र की उसकी सरकार किस तरह से राजस्थान में लोकतंत्र की हत्या कर रही हैं। परंतु, दिल्ली पुलिस ने हमें उप राज्यपाल के कार्यालय की तरफ बढ़ने से पहले ही रोक दिया है।’’

राजस्थान में पार्टी ने राजभवन का घेराव नहीं किया। कांग्रेस का मानना है कि इसको आधार बनाते हुए कहीं राष्ट्रपति शासन की सिफारिश ना हो जाए। सावधानी बरतते हुए यह तय हुआ है कि कोई भी राजभवन के आस-पास नहीं जाएगा।

गौरतलब है कि राजस्थान की सियासत अब राज्यपाल कलराज मिश्र के इर्द गिर्द घूम रही है। सीएम गहलोत जहां विधानसभा सत्र बुलाने पर अड़े हुए हैं, वहीं राज्यपाल सत्र बुलाने के मूड में नजर नहीं आ रहे हैं।

बता दें कि कांग्रेस राजस्थान में राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर सोमवार को सभी प्रदेशों में राजभवनों के बाहर धरना-प्रदर्शन कर रही है। उसका आरोप है कि केंद्र सरकार कांग्रेस की राज्य सरकारों को अस्थिर करने के लिए राज्यपालों का राजनीतिक इस्तेमाल कर रही है। 

कोरोना से जंग : Full Coverage




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close