मध्य प्रदेश

राजधानी भोपाल आज से Unlock: नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा, रात 8 बजे बंद करना होगा बाज़ार

लॉकडाउन के दौरान शहर में जैसी पुलिस चैकिंग और गश्त लगाई गई थी, वो अभी जारी रहेगी.

Bhopal Unlock: थाना स्तर पर निर्देश दिए गए हैं कि टीआई (TI) और सीएसपी (CSP) चेकिंग पॉइंट और पूरी व्यवस्था की मॉनिटरिंग करेंगे. उन्हें भी गश्त के दौरान मौजूद रहना पड़ेगा.

भोपाल. लॉकडाउन (Lockdown) के बाद राजधानी भोपाल मंगलवार से फिर अनलॉक (Unlock) हो गयी है. 10 दिन के लॉकडाउन की समय सीमा 4 जुलाई को खत्म हो गयी है. इसी के साथ बाजारों और सड़कों पर लोगों की आवाजाही सामान्य हो गयी है, लेकिन नाइट कर्फ्यू अभी जारी रहेगा. दुकानें और बाज़ार रात 8:00 बजे बंद करने होंगे. अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के कारण यहां भी 5 अगस्त तक सुरक्षा व्यवस्था और चेकिंग तगड़ी रहेगी.

राजधानी भोपाल में कोरोना संक्रमण के तेजी से फैलने के कारण 10 दिन का लॉकडाउन था. सरकार ने 24 जुलाई की रात 8 बजे से 4 अगस्त की सुबह 5 बजे तक टोटल लॉकडाउन लागू किया था. इसमें पेट्रोल, गैस, फल-सब्जी, दूध और मेडिकल स्टोर्स खोलने की छूट दी गई थी. इसके अलावा पूरा शहर टोटल लॉक था. सिर्फ इमरजेंसी सर्विस को छोड़कर बाकी लोगों के घर से निकलने पर पूरी तरह पाबंदी थी. जिन लोगों ने इस दौरान लॉकडाउन का उल्लंघन किया, उनके खिलाफ पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई की.

नाइट कर्फ्यू जारी रहेगा
शहर को अनलॉक करने के साथ ही बाजार पूर तरह से खुल जाएंगे, लेकिन रात का कर्फ्यू अभी जारी रहेगा. रात 8 बजे के बाद लोगों के घर से बाहर निकलने पर रोक रहेगी. लोगों को सोशल डिस्टेंस का पालन करने के साथ मास्क पहनना अनिवार्य होगा. इसके अलावा भीड़-भाड़ वाले इलाकों में सावधानी बरतनी पड़ेगी. रात 8:00 बजे तक लोगों को बाजार खोलने की परमिशन दी गई है. इसके बाद उन्हें अपनी दुकानों और ऑफिस बंद करना पड़ेंगे. यदि इस नियम का पालन नहीं किया जाता है तो प्रशासन की तरफ से कार्रवाई भी की जाएगी.

पुलिस की सख्ती जारी
अयोध्या में 5 अगस्त को राम मंदिर के लिए भूमिपूजन है. इसलिए शहर में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए सख्ती जारी रहेगी. लॉकडाउन के दौरान शहर में जैसी पुलिस चेकिंग और गश्त लगाई गई थी, वो अभी जारी रहेगी. पुलिस चेकिंग पॉइंट लगाकर वाहनों की चैकिंग करेगी और इलाके में गश्त करेगी.थाना स्तर पर निर्देश दिए गए हैं कि टीआई और सीएसपी चेकिंग पॉइंट और पूरी व्यवस्था की मॉनिटरिंग करेंगे. उन्हें भी गश्त के दौरान मौजूद रहना पड़ेगा.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close