देश

योगी सरकार में मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह भी कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

Image Source : TWITTER/BJPDRMAHENDRA
योगी सरकार में मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह भी कोरोना संक्रमित, मचा हड़कंप

लखनऊ. रविवार का दिन भाजपा के लिए बेहद खराब रहा। देश के गृह मंत्री अमित शाह, यूपी भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के बाद अब योगी सरकार में जल शक्ति मंत्री डॉ. महेंद्र सिंह कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इससे पहले रविवार को ही योगी कैबिनेट में मंत्री योगी कैबिनेट की मंत्री कमल रानी वरुण का कोरोना वायरस की वजह से निधन हो गया। वो अस्पताल में भर्ती थीं। 

अमित शाह ने खुद दी संक्रमित होने की जानकारी

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को कहा कि वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गए हैं और डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं। उन्होंने हिंदी में ट्वीट किया, “कोरोना के शुरूआती लक्षण दिखने पर मैंने जांच करवायी और रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मेरी तबीयत ठीक है परन्तु डॉक्टरों की सलाह पर अस्पताल में भर्ती हो रहा हूं।” गृह मंत्री ने बीते कुछ दिनों के दौरान अपने संपर्क में आए लोगों से भी कोरोना वायरस की जांच कराने और पृथक-वास में रहने का अनुरोध किया। 

स्वतंत्र देव सिंह ने भी ट्वीट कर दी जानकारी

उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के रविवार को कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। उन्होंने ट्वीट कर खुद यह जानकारी दी। स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट किया, ”मुझे कोरोना (वायरस संक्रमण) के शुरुआती लक्षण दिख रहे थे, जिसके चलते मैंने कोविड-19 की जाँच कराई। जांच में मेरी रिपोर्ट पॉज़िटिव आई है।” उन्होंने कहा, ”मुझसे संपर्क में आने वाले सभी लोगों से मेरा निवेदन है कि वे संबद्ध दिशानिर्देशों के अनुसार स्वयं को पृथक कर लें और आवश्यकता अनुसार अपनी जाँच करा लें।” 

कमल रानी वरूण का किया गया अंतिम संस्कार

उत्तर प्रदेश की प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरूण का कोविड—19 प्रोटोकॉल के अनुरूप रविवार को यहां भैरोघाट श्मशान भूमि पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। जिलाधिकारी डा.ब्रहमदेव राम तिवारी ने बताया कि दिवंगत मंत्री का शव भैरोघाट पहुंचते ही उन्हें ‘‘गार्ड ऑफ ऑनर’’ दिया गया।

मंत्री कोरोना वायरस से संक्रमित हो गई थी और राजधानी लखनऊ के संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान (एसजीपीजीआई) में दो हफ्ते से उनका उपचार चल रहा था। रविवार सुबह लगभग साढे नौ बजे उनकी मृत्यु हो गई। कोरोना वायरस संक्रमण से मरने वाली वह प्रदेश की पहली मंत्री हैं । कोविड-19 रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्हें 18 जुलाई को एसजीपीजीआई में भर्ती कराया गया था । उन्हें मधुमेह,उच्च रक्तचाप और थायराइड की समस्या थी। 

कोरोना से जंग : Full Coverage




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close