मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश के अन्नदाताओं को केंद्र सरकार की सौगात, किसानों को बांटेगी 18 हजार करोड़ रुपए

रविवार को मध्य प्रदेश के किसानों के खाते में केंद्र सरकार 18,000 करोड़ रुपए वितरण करेगी (न्यूज़ 18 ग्राफिक्स)

रविवार को केंद्र सरकार (Central Government) की तरफ से राज्य के किसानों के खाते में 18 हजार करोड़ रुपए डाले जाएंगे. 17 हजार करोड़ पीएम सम्मान निधि और एक हजार करोड़ वेयरहाउस आदि की सब्सिडी (Subsidy) के तौर पर किसानों के खाते में डाले जाएंगे

नई दिल्ली. मध्य प्रदेश में विधानसभा उपचुनाव (MP Assembly Byelection) से पहले बीजेपी किसानों (Farmers) को रिझाने के लिए एक और दांव चलने को तैयार है. रविवार को केंद्र सरकार (Central Government) की तरफ से राज्य के किसानों के खाते में 18 हजार करोड़ रुपए डाले जाएंगे. 17 हजार करोड़ पीएम सम्मान निधि और एक हजार करोड़ वेयरहाउस आदि की सब्सिडी (Subsidy) के तौर पर किसानों के खाते में डाले जाएंगे.

प्रदेश के कृषि राज्य मंत्री गिरिराज दंडोतिया ने बताया कि रविवार सुबह 11 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर किसानों के खाते में 17 हजार करोड़ किसान सम्मान निधि और एक हजार करोड़ वेयरहाउस, कोल्ड स्टोरेज की सब्सिडी के रूप में डालेंगे. उन्होंने बताया कि अलग-अलग योजनाओं का पैसा महिलाओं, किसानों, गरीबों के खाते में केंद्र सरकार की तरफ से पहुंच रहा है.

कांग्रेस ने कर्ज माफ करने के बजाय किसानों पर बोझ बढ़ाया

दंडोतिया ने पूर्व की कमलनाथ सरकार पर किसानों को गुमराह करने का आरोप लगाते हुए कहा कि चुनाव के दौरान राहुल गांधी ने कर्ज माफी की बात कही थी. कांग्रेस के वचन पत्र में भी कहा गया था कि दो लाख रुपए तक का कर्ज 10 दिन में किसानों का माफ किया जाएगा. दिसंबर 2018 में प्रदेश में कमलनाथ की सरकार बनने के 15 महीने के बाद भी किसानों का कर्ज माफ नहीं किया गया. कर्ज माफी नहीं होने से किसानों पर ब्याज और बढ़ गया.गिरिराज दंडोतिया ने कहा कि अब शिवराज सिंह चौहान की सरकार ब्याज को खत्म करने के प्रयास कर रही है. 15 महीने की कांग्रेस सरकार ने किसानों को कर्ज में डुबा दिया.

कांग्रेस की 15 महीनों की सरकार अक्षम साबित हुई

उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश में गद्दी छोड़ो अभियान कांग्रेस इसलिए शुरू कर रही है क्योंकि उनके पास कोई मुद्दा नहीं है. हकीकत यह है कि धरातल पर कांग्रेस खत्म हो चुकी है. 15 महीनों में कांग्रेस सरकार अक्षम साबित हुई है, वो सरकार चला नही सके.

पिछले महीने हुआ मंत्रिमंडल गठन क्या मुख्यमंत्री शिवराज सिंह और राष्ट्रीय नेतृत्व ने किया है, यह पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वो इस पर कुछ नहीं कहेंगे.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close