टेक्नोलॉजी

भारतीय भूले आत्मनिर्भरता! सिर्फ कुछ ही सेकेंड में बिके ये चीनी स्मार्टफोन्स और इलेक्ट्रॉनिक सामान

ऑनलाइन ऑफर पाकर चीनी सामानों की खरीदारी खूब की गई.

आत्मनिर्भरता के नारे के बाद चीनी कंपनियों में तनाव था लेकिन इसके विपरीत ऑनलाइन सेल में उनकी बिक्री में डबल डिजिट बढ़ोत्तरी हुई है…

फ्लिपकार्ट और अमेज़न (Amazon and Flipkart)पर हाल ही में हुए सेल में चीन के स्मार्टफोन और अन्य इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांड्स की जोरदार बिक्री हुई है. भारत-चीन सीमा विवाद के बाद चीन (China) के सामानों का बहिष्कार और देशी सामानों की खरीदारी की मांग जोरदार तरीके से उठी थी लेकिन ऑनलाइन ऑफर ग्राहकों को इतने आकर्षित लगे कि वे आत्मनिर्भरता का नारा भूलकर चीनी सामानों की जोरदारी खरीदारी की. हालांकि आत्मनिर्भरता के नारे के बाद चीनी कंपनियों में तनाव था लेकिन इसके विपरीत ऑनलाइन सेल में उनकी बिक्री में डबल डिजिट बढ़ोत्तरी हुई है.

अमेज़न इंडिया ने कहा कि हाल ही में लॉन्च हुए वनप्लस नॉर्ड स्मार्टफोन 6 से 7 अगस्त के टाइम में हुए अमेज़न प्राइम डे सेल में सबसे ज्यादा बिकनेवाला स्मार्टफोन रहा है. वहीं रियलमी इंडिया (Realme India)के प्रवक्ता ने बताया कि दो दिनों की अवधि में बिक्री में जोरदार इजाफा हुआ है. इस सेल का कुल कारोबारी मूल्य 400 करोड़ रुपये के आसपास रहने की उम्मीद है. कंपनी के वायर्ड ईयरफोन सबसे ज्यादा बिकनेवाला प्रोडक्ट रहा. इसके अलावा वर्क फ्रॉम होम के प्रोडक्ट भी बड़े पैमाने में भारतीयों द्वारा खरीदे गये हैं.

(ये भी पढ़ें-चार्जिंग के दौरान फोन में लगी आग, सोती हुई महिला और दो बच्चे ने झुलसकर तोड़ा दम)

वहीं दूसरी तरफ शियोमी (Xiaomi) के चार फोन के हज़ारों मॉडल बेचे गए. ये बिक्री कुछ सेकंड में ही पूरी हो गई. महाराष्ट्र टाइम्स में छपी खबर के मुताबबिक शियोमी इंडिया के प्रबंध निदेशक मनु कुमार जैन ने ट्वीट करके ये जानकारी दी है.चीन के ब्रैंड वाले अनेकों फोन इस सेल में आउट ऑफ स्टॉक हो गए. इसके अलावा कंपनी का कहना है कि ऑफलाइन बिक्री के आंकड़े भी बढ़े हैं. हालांकि काउंटरपॉइंट के रिसर्च के अनुसार भारतीय  बाजार में चीन के स्मार्टफोन कंपनियों की हिस्सेदारी जनवरी-मार्च के दौरान 81 प्रतिशत थी जो घटकर 72  प्रतिशत पर आ गई है.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close