मध्य प्रदेश

प्यारे मियां पर एक और FIR दर्ज, 60 लाख के गबन का आरोप, पत्नियों के साथ बेटे को भी बनाया गया आरोपी

साथ ही समय- समय पर सोसायटी की मीटिंग में फर्जी लोगों के नाम और हस्ताक्षर बनाकर ऑडिट रिपोर्ट रजिस्ट्रार कार्यालय में जमा की. (फाइल फोटो)

पुलिस ने प्यारे मियां की केस डायरी एसआईटी (SIT) को सौंप दी है. अब पुलिस उसकी दोनों पत्नियों और एक बेटे को भी गिरफ्तार करेगी. अभी फिलहाल आरोपी प्यारे मियां 5 दिन के पुलिस रिमांड पर है.

भोपाल. कम उम्र की लड़कियों के साथ रेप करने वाले आरोपी प्यारे मियां (Pyare Miyan) पर भोपाल पुलिस ने एक और एफआईआर (FIR) दर्ज कर ली है. आरोपी पर 60 लाख का गबन करने का आरोप है. पुलिस ने आरोपी प्यारे मियां के साथ उसकी दो पत्नियां और एक बेटे को भी आरोपी बनाया है. यह एफआईआर पुराने शहर के श्यामला हिल्स थाने (Brunette Hills Police Station) में दर्ज की गई है.

एसएन सिहं ने आरोपी प्यारे मियां के द्वारा गठित ई ब्लाक लेक व्यू इन्क्लेव अपार्टमेन्ट वेल फेयर सोसायटी भोपाल के  खिलाफ शिकायत की थी. पुलिस ने शिकायत की जांच की तो पता चला कि आरोपी प्यारे मियां ने अपने घर के सदस्यों के नाम पर और सोसायटी के अन्य लोगों को बिना कोई जानकारी दिये ई ब्लाक वेल फेयर सोसायटी बना ली. इसके बाद आरोपी ने अंसल अपार्टमेन्ट के ई ब्लाक की छत पर भारती एयरटेल लिमिटेड का टावर लगवाकर 2011 से लेकर आज तक 60 लाख रुपए भारती एयरटेल लिमिटेड से हासिल किए. इन पैसों का इस्तेमाल आरोपी ने सोसायटी के किसी भी काम के लिए नहीं किया. साथ ही समय- समय पर सोसायटी की मीटिंग में फर्जी लोगों के नाम और हस्ताक्षर बनाकर ऑडिट रिपोर्ट रजिस्ट्रार कार्यालय में जमा की.

2 पत्नियां  और एक बेटा भी आरोपी
पुलिस ने प्यारे मिया के अलावा उनकी पत्नि तनवीर फातिमा और बदरून्निसा के साथ बेटे शाहनवाज खान पर धोखाधड़ी कर सोसायटी के नाम पर मिले रुपये का दुरुपयोग किये जाना पाये जाने पर एफआईआर दर्ज की है. पुलिस ने प्यारे मियां की केस डायरी एसआईटी को सौंप दी है. अब पुलिस उसकी दोनों पत्नियों और एक बेटे को भी गिरफ्तार करेगी. अभी फिलहाल आरोपी प्यारे मियां 5 दिन के पुलिस रिमांड पर है.आरोपी प्यारे मियां की डायरी ने कई राज उगले हैं
बता दें कि नाबालिग लड़कियों से रेप के मामले में फंसे आरोपी प्यारे मियां की डायरी ने कई राज उगले हैं. इस डायरी में उन बड़े ‘मगरमच्छों’ का नाम भी शामिल है, जिन्होंने प्यारे मियां से मोटी रकम ली थी. एसआईटी (SIT) ने डायरी से मिले नामों की जांच शुरू कर दी है. उन लोगों की सूची बनाई गई है. अब उनसे डायरी में नोट लेनदेन के बारे में पूछताछ की जाएगी. जांच में पता चला है कि प्रदेश के सबसे बड़े ड्रग्स माफिया में शामिल बाबू के साथ मिलकर प्यारे मियां ने 2015 में गांधी सागर डेम का मछली का ठेका लिया था. इन दोनों के साथ पांच पार्टनर और थे. बाबू जेल में है, लेकिन पूरा हिसाब किताब प्यारे रख रहा था.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close