विदेश

डाइविंग के दौरान पिता की गर्दन वाली हड्डी टूटी, 9 साल के बेटे ने बचाई जान

कॉन्सेप्ट इमेज.

इस बच्चे ने तैराकी या जान बचाने का कोई औपचारिक प्रशिक्षण नहीं लिया है, फिर भी उसने जान की बाजी लगाकर पिता (Father) की जिंदगी बचाने का साहस दिखाया.

पेनसाकोला. अमेरिका के फ्लोरिडा (Florida) में गोताखोरी के दौरान पिता के गले की हड्डी टूटने के बाद उन्हें किनारे पर लाने वाले नौ वर्षीय बच्चे की हर ओर चर्चा हो रही है. असाई विलियम्स नामक इस बच्चे ने कहा कि जब वह किसी के साथ गोताखोरी (Swimming) करता है तो उसके साथ अक्सर एक खेल खेलता है. इस दौरान वह उस व्यक्ति को तय समय के भीतर डुबकी लगाकर वापस आने के लिये कहता है और अगर वह वापस नहीं आता, तो वह उसे खोजने निकल जाता है. इस बच्चे ने तैराकी या जान बचाने का कोई औपचारिक प्रशिक्षण नहीं लिया है, फिर भी उसने जान की बाजी लगाकर पिता की जिंदगी बचाने का साहस दिखाया.

दरअसल, विलियम्स का पांच सदस्यों का परिवार शनिवार को क्वाइटवाटर बीच पर मौज-मस्ती के लिये गया था. इस दौरान सूर्यास्त के कुछ देर बाद विलियम्स अपने पिता जॉश से नौका से सैंटा रोजा साउंड में डुबकी लगाने की जिद करने लगा, लेकिन उसकी इस जिद को पूरा करते समय जॉश गर्दन की हड्डी टूट गई. विलियम्स ने पेनसाकोला समाचार पत्रिका को बताया, ‘मुझे बस यही याद है कि उन्होंने कहा कि उनकी गर्दन की हड्डी टूट गई है और उन्हें बहुत डर लग रहा है.’

ये भी पढ़ें: खदान मजदूर की फिर चमकी किस्मत, एक महीने में दूसरी बार बना करोड़पति

हालत में हो रहा सुधारविलियम्स के पिता पानी में सीधे हो गए और उसे उल्टा नहीं हुआ गया. अपने पिता से 45 किलो कम वजन होने के बावजूद विलियम्स ने गजब का साहस दिखाया और उन्हें अपनी पीठ पर लादकर धीरे-धीरे तैराकी करते हुए किनारे तक ले आया. इसके बाद जॉश को अस्पताल ले जाया गया और सोमवार को उनकी गर्दन की सर्जरी की गई, जहां उनकी हालत में तेजी से सुधार हो रहा है.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close