स्पोर्ट्स

घमंडी वाले बयान पर जुर्गेन क्लॉप ने की फ्रैंक लैम्पार्ड की आलोचना

Image Source : GETTY IMAGES
Jurgen Klopp

इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) चैंपियन लिवरपूल के कोच जुर्गेन क्लॉप ने चेल्सी के कोच फ्रैंक लैम्पार्ड द्वारा उन्हें घमंडी बताए जाने के बाद लैम्पार्ड की आलोचना की है। लिवरपूल के बेंच के व्यवहार से नाखुश हो कर लैम्पार्ड ने कहा था कि प्रीमियर लीग का चैंपियन बनने के बाद लिवरपूल को अहंकारी नहीं बनना चाहिए।

चेल्सी के मातेओ कोवासिक के खिलाफ फ्री किक दिए जाने के बाद लैम्पार्ड और लिवरपूल की बेंच के बीच कहा-सुनी हो गई थी। लिवरपूल ने इस मुकाबले में चेल्सी को 5-3 से मात दी थी।

ईएसपीएन की रिपोर्ट के अनुसार, क्लॉप ने पत्रकारों से कहा, “हम घमंडी नहीं हैं। फ्रैंक प्रतिस्पर्धी मूड में था और मैं इसका बहुत सम्मान करता हूं। मेरे ²ष्टिकोण से, इस स्थिति में (मैच के बीच में) आप जो चाहें बहुत कह सकते हैं। वह यहां मैच जीतने के लिए आया था या अंक हासिल करने आया था कि चैंपियंस लीग में प्रवेश करने में यह अंक उनकी मदद कर सके और मैं इसका सम्मान करता हूं।”

उन्होंने कहा, “उन्हें जो कुछ सीखना है और वह ये है कि उन्हें अंतिम सीटी के साथ मैच खत्म करना है और उन्होंने ऐसा नहीं किया। इसके बारे में बाद में बोलना ठीक नहीं है। फ्रैंक को यह सीखना है और उनके पास सीखने के लिए बहुत समय है, क्योंकि वह एक युवा कोच हैं, लेकिन उन्हें यह सीखना होगा।”

क्लॉप ने कहा, “हम अभिमानी नहीं हैं, हम इसके बहुत विपरीत हैं। अंतिम सीटी और मैच को खत्म कर दें और उन्होंने ऐसा नहीं किया। यही मुझे पसंद नहीं है।”

लैम्पार्ड ने इससे पहले कहा था, “मेरे हिसाब से कोवासिक ने फाउल नहीं किया था। बेंच पर बहुत सारी चीजें चल रही थीं, मुझे जोर्गेन क्लॉप से कोई समस्या नहीं है, उन्होंने इस टीम को प्रबंधित किया और यह शानदार है। जब आप जीत रहे हैं तो यह एक अच्छी रेखा है और उन्होंने लीग जीत ली है। लिवरपूल ने निष्पक्ष खेल दिखाया है, लेकिन उनके साथ उन्हें घमंडी नहीं होना चाहिए।”

कोरोना से जंग : Full Coverage




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close