उज्जैन कोरोना न्यूज़उज्जैन न्यूज़राजनीति

शहर में बढ़ती मौतों, आरडी गार्डी अस्पताल की लापरवाहियों

महानिक पर एफआईआर और भुखमरी के विरोध में कांग्रेस ने शहरभर में लगाये काले झंडे !

आरडी गार्डी की बदहाल

उज्जैन । देश मे सभी कोरोना वारियर्स का सम्मान कर रहे है, उज्जैन में भी कोरोना वारियर्स का स्वागत सम्मान किया गया लेकिन उन लूजर्स का विरोध करने की भी आवश्यकता है जिनके कारण लगातार लोगो की जान जा रही है, जिनके कार्यो और गलत निर्णयों का दण्ड पुरे शहर को भुगतना पड़ रहा है, जिनकी लापरवाहियों और नाफ़रमानीयो के कारण अब तक 45 लोगो की जान जा चुकी है और करीब 240 लोग संक्रमित हो चुके है, जिनकी भ्रष्टाचारियों से आज शहर हलाकान है । ऐसे ही कोरोना “लूजर्स” के विरोध में शहर कांग्रेस ने आंदोलन खड़ा किया है जिसके तरह पुरे शहर में कांग्रेसियों द्वारा घरों की छतों पर काले झंडे लगाकर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है ।

शहर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता बटुक शंकर जोशी, अध्यक्ष महेश सोनी, प्रदेश कांग्रेस सचिव चेतन यादव, महेश सुगन्धी, लालचंद भारती ने बताया कि जिस तरह से प्रदेश सरकार ने उज्जैन शहर को एक प्रयोगशाला बनाकर रख दिया है और एक के बाद एक लिए गए गलत निर्णयों के कारण जो आज शहर की दुर्दशा हुई है उससे सभी वाकिब है । भाजपा नेताओं को लाभ पहुंचाने के लिए कोरोना ईलाज की जिम्मेदारी आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज को देना, पीपीई किट, सेनेटाइजर पावडर में कमीशन खोरी, लोगो की जान से खिलवाड़ करने वाले डॉक्टर महानिक पर प्रकरण दर्ज नही करना और स्वास्थ्य सेवाओं में लापरवाही बरतने के कारण गई लोगो की जान और टेस्ट में लेट लतीफी और गलत परिणाम आने के कारण शहरवासियों के हो रहे जानो माल के नुकसान एवं लॉक डाउन में भुख से तड़प रहे गरीब, मजदूर और जरूरतमंद लोगो तक भोजन, राशन नही पहुंचने के विरोध स्वरूप शहर कांग्रेस ने काले झंडे लगाकर अपना कड़ा विरोध दर्ज कराया है । ताकि प्रदेश की भाजपा सरकार की आंखों से पट्टी हटे और वह आरडी गार्डी का लाइसेंस निरस्त कर किसी अन्य अस्पताल में कोरोना संक्रमितों का उपचार कराए, डॉक्टर महानिक पर प्रकरण दर्ज कराए , भुखे और जरूरतमंद लोगों तक सहायता पहुंचाये एवं स्वास्थ्य सामग्रियों में कमीशनखोरी, कालाबाजारी और निरंकुशता पर अंकुश लगाए । इसी आशय के साथ कांग्रेस ने बड़े पैमाने पर शहर में काले झंडे लगाने का कार्य शुरू किया है ।

फेसबूक वाट्सअप पर अपील..
शहर कांग्रेस के नेताओ द्वारा फेसबूक वाट्सअप सहित अन्य माध्यमों से शहरवासियों से अपील की जा रही है कि वह शहर को कोरोना और भ्रष्टाचारियों से बचाने के लिए आगे आये और अपने घरों पर विरोध स्वरूप यह काला झंडा लहराए । आंदोलन शुरू होने के बाद से सोशल मीडिया में जमकर फैल रहा है सभी कांग्रेस नेता हाथों में काले झंडे थामें अपनी अपनी तस्वीरें वायरल कर रहे है और लोगो से अपील भी की जा रही है, इधर शहर कांग्रेस में बड़ी संख्या में काले झंडे बनाये जा रहे है और कार्यकर्ताओं को दिए जा रहे है , देखना है कांग्रेस का यह आंदोलन कितना सफल हो पाता है ।


ब्युरो रिपोर्ट ,उज्जैन

Related Articles

Back to top button
Close