स्पोर्ट्स

केविन ओ ब्रायन ने माना, युवाओं पर टिकी है आयरलैंड क्रिकेट की जिम्मेदारी

Image Source : GETTY
kevin o brien

इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच तीन टेस्ट मैचों की सीरीज के साथ कोरोना काल में अंतराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी हुई। जिसमें विंडीज ने पहले मैच में जीत दर्ज कर उलटफेर की आशंकाओं को बढ़ा दिया लेकिन इंग्लैंड ने दमदार वापसी करते हुए विजडन सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली। ऐसे में इंग्लैंड की टीम को अब आयरलैंड के खिलाफ तीन वनडे मैचों की सीरीज खेलनी है। जिसको लेकर आयरलैंड क्रिकेट टीम के आलराउंडर केविन ओ ब्रायन का मानना है कि देश में क्रिकेट को अगले स्तर पर ले जाने की जिम्मेदारी अब युवाओं के कंधों पर है। 

36 वर्षीय आलराउंडर गुरुवार से इंग्लैंड के साथ शुरू होने वाली तीन मैचों की वनडे सीरीज के पहले मैच के लिए आयरलैंड की 14 सदस्यीय टीम का हिस्सा हैं। ओ ब्रायन ने 2011 विश्व कप में इंग्लैंड के खिलाफ ही 50 गेंदों पर शतकीय पारी खेलकर आयरलैंड को तीन विकेट से ऐतिहासिक जीत दिलाई थी।

ओ ब्रायन ने क्रिकइंफो से कहा, “अब इसे 10 साल हो रहे हैं। यह थोड़ा निराशाजनक है। यह स्पष्ट रूप से एक बहुत गर्व की बात है। इसके बारे में बात करने और सोचने से मेरे रोंगटे खड़े हो जाते हैं।”

आयरलैंड के लिए तीन टेस्ट, 145 वनडे, 96 टी मैच खेल चुके ओ ब्रायन ने कहा, “मेरे स्कोर चाहे दिखे हैं या नहीं, मुझे लगता है कि मैं अब एक बेहतर क्रिकेटर हूं। मैं अब पहले से कहीं ज्यादा अनुभवी हूं और मैं शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत हूं।”

ये भी पढ़े : आयरलैंड के कोच का दावा, वनडे सीरीज में मेजबान इंग्लैंड पर होगा ज्यादा दबाव

उन्होंने कहा, “एक जैसे उम्र के चार या पांच खिलाड़ी हैं। उनके लिए अपनी विरासत को लिखने और आयरिश क्रिकेट के अगले स्तर तक ले जाने का यह एक शानदार अवसर है।”

बता दें कि इंग्लैंड और आयरलैंड के बीच तीन वनडे मैचों की सीरीज का पहला मैच 30 जुलाई को जबकि अन्य दो मैच 1 अगस्त और 4 अगस्त को खेले जायेंगे। ये तीनो मैच एक ही जगह साउथेम्प्टन के द रोज बाउल मैद्दान में खेले जाएंगे।

कोरोना से जंग : Full Coverage




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close