मध्य प्रदेश

उज्जैन सेंट्रल जेल में 8 कैदियों में फैला कोरोना, कलेक्टर ने डॉक्टर को किया सस्पेंड

कलेक्टर ने आइसोलेशन वॉर्ड के भीतर जाकर कोरोना पॉजिटिव मरीज़ों से चर्चा की.

कैदियों ने कलेक्टर (collector) से शिकायत की कि डॉक्टर (doctor) नियमित रूप से नहीं आते. वो जेल अधीक्षक का आदेश भी नहीं मानते.

उज्जैन. उज्जैन (ujjain) की भैरूगढ़ सेंट्रल जेल (jail) में 8 कैदियों को कोरोना (corona) हो गया है.सभी की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी है. इसके बाद कलेक्टर आशीष सिंह ने जेल डॉक्टर को निलंबित कर दिया है.कैदियों को अब अलग-अलग रखा जा रहा है.

उज्जैन की भैरूगढ़ जेल में एकदम से 8 कैदियों के कोरोना संक्रमित होने से हड़कंप मचा हुआ है. जेल प्रशासन ने इसकी पुष्टि की है. खबर आने के बाद कलेक्टर आशीष सिंह व्यवस्था का जायज़ा लेने जेल पहुंचे. उन्होंने कैदियों से मुलाकात की और उनका हाल जाना. जेल की डॉक्टर नीलम डेविड को लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया गया है. उन्होंने उन कोरोना संक्रमित सभी कैदियों को अलग स्थान शिफ्ट करने के निर्देश दिए.

व्यवस्था में खामी
आशीष सिंह सुबह करीब 11:00 बजे केंद्रीय जेल भैरूगढ़ का  निरीक्षण  करने पहुंचे. उन्होंने  कोरोना वायरस पॉजिटिव  मरीजों और संदिग्ध मरीजों का हालचाल जाना. कलेक्टर ने आइसोलेशन वॉर्ड  के भीतर  जाकर कोरोना  पॉजिटिव मरीज़ों से चर्चा की. कलेक्टर ने उनसे के स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की.कैदियों ने की शिकायत

निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने पाया कि जेल में  पदस्थ डॉक्टर डेविड नीलम निरंतर लापरवाही करते हैं. वो जेल में नियमित रूप से नहीं आते हैं. कैदियों ने शिकायत की कि वो जब आते भी हैं तो स्वयं चिकित्सा कार्य करने के बजाए अपने पैरामेडिकल स्टाफ से काम करवाते हैं. ये भी शिकायत मिली कि वो जेल अधीक्षक के आदेशों की लगातार अवहेलना करते हैं. कलेक्टर ने इस बात पर नाराजगी व्यक्त करते हुए डॉक्टर नीलम के निलंबन की कार्रवाई करने के निर्देश दिए.  साथ ही  उनकी जगह किसी अन्य डॉक्टर को जेल में पदस्थ करने के लिए मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ महावीर  खंडेलवाल को निर्देश दिया.

बरेली उपजेल में कोरोना-इससे पहले रायसेन ज़िले की बरेली उपजेल में कोरोना संक्रमण फैल चुका है.वहां 64 कैदियों सहित कुल 67 लोग कोरोना से संक्रमित मिले थे.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close