विदेश

ईरान का कहना है कि सभी अमेरिकी समान हैं-‘वे चबाने से कहीं ज्यादा काटते हैं’

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ की घोषणा के बाद ईरान ने तल्ख प्रतिक्रिया दी.

ईरान के एक वरिष्ठ अधिकारी (Iran’s Senior Officials) ने शुक्रवार को कहा कि ईरान के लिए बाहरी और आने वाले अमेरिकी विशेष दूतों के बीच कोई अंतर नहीं था क्योंकि अमेरिकी अधिकारी जितना चबा सकते हैं उससे अधिक काटते है.

तेहरान. ईरान के एक वरिष्ठ अधिकारी (Iran’s Senior Officials) ने शुक्रवार को कहा कि ईरान के लिए बाहरी और आने वाले अमेरिकी विशेष दूतों के बीच कोई अंतर नहीं था क्योंकि अमेरिकी अधिकारी जितना चबा सकते हैं उससे अधिक काटते (Americans are equal – ‘they bite more than they chew) है. उन्होंने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ (Mike {ompeo) की गुरूवार को की गई एक घोषणा के बाद यह ट्वीट किया था.

ईरान में शीर्ष अमेरिकी दूत अपना पद छोड़ रहे हैं

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने गुरूवार को यह घोषणा की कि ईरान में शीर्ष अमेरिकी दूत ब्रायन हुक अपना पद छोड़ रहे हैं और वेनेजुएला के अमेरिकी विशेष प्रतिनिधि इलियट अब्राम्स अपने कामकाज में अतिरिक्त कार्यभार के रूप में ईरान को भी शामिल करेंगे.

#BankruptUSIranPolicyईरानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्बास मौसवी ने अमेरिका-ईरान नीतियों के दीवालियापन पर व्यंग्य करते हुए हैशटैग #BankruptUSIranPolicy के तहत एक ट्वीट में कहा कि जॉन बोल्टन, ब्रायन हुक या इलियट अब्राम्स के बीच कोई अंतर नहीं है. उन्होंने यह भी कहा कि जहां तक ईरान के संबंध में अमेरिका की चिंता की बात है, अमेरिकियों पर एक कहावत लागू होती है कि जितना वे चबा नहीं पाते उतना वे काटने की कोशिश करते हैं. यह कहावत माइक पोम्पिओ, डोनाल्ड ट्रम्प और उनके उत्तराधिकारियों पर लागू होती है. स्पष्ट है कि वे अमेरिका की नीतियों पर व्यंग्य कर रहे थे. इसके पीछे कई कारण हैं जिनमें एक कारण पिछले साल राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का अपने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन को पद से हटाया जाना भी है. जॉन बोल्टन ईरान मामलों में कटटरपंथी रुख रखने वाले दक्ष सलाहकार हैं जिन्होंने तेहरान के परमाणु कार्यक्रम को नष्ट करने के लिए सैन्य कार्रवाई की वकालत की थी.

ब्रायन हुक को राजदूत पद से हटाया गया

हटाए जा रहे राजदूत ब्रायन हुक 52 वर्ष के हैं जिन्हें 2018 के अंत में अमेरिका के विदेश विभाग में ईरान में कार्यभार सँभालने के लिए नामित किया गया था. हुक ने तेहरान के खिलाफ अमेरिकी अधिकतम दबाव अभियान में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है. इस अभियान में महत्वपूर्ण तेल निर्यात पर प्रतिबंध लगाने जैसा काम शामिल है. वहीं 72 वर्षीय अब्राहम वेनेजुएला को जनवरी 2019 में वेनेजुएला के लिए अमेरिकी विशेष प्रतिनिधि के रूप में नामित किया गया था, जिन्होंने वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो को हटाने के उद्देश्य से एक घृणित आक्रामक दृष्टिकोण रखकर विचारों का नेतृत्व किया था. अब्राहम को फिलहाल वेनेजुएला के साथ ईरान का कार्यभार दिया गया है.

ये भी पढ़ें: COVID-19: पोम्पिओ ने विदेशमंत्री जयशंकर से कुछ​ ही दिनों में दो बार की बातचीत

अमेरिका: किंग्स नदी में डूब रहे थे बच्चे, भारतीय सिख युवक ने बचाई तीनों की जान

ईरान के शीर्ष बजट अधिकारी मोहम्मद-बाकर नोबख्त ने शुक्रवार को कहा कि देश को अपने चालू वित्त वर्ष के पहले चार महीनों में अपनी नियोजित तेल आय का केवल 6% का शुद्ध लाभ प्राप्त किया था लेकिन उच्च कर राजस्व और राज्य संपत्ति की बिक्री ने आंशिक रूप से बजट की कमी को दूर किया.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close