मध्य प्रदेश

इंदौर : जाली नोट खपा रहा आरोपी पकड़ा गया : इंटरनेट से सीखी जालसाज़ी, ऑर्डर पर करता था काम

पुलिस अब उसके पूरे रैकेट का पता लगा रही है.

पुलिस (police) ने आरोपी के कब्जे से एक लाख 91 हजार से अधिक कीमत के नोट (note) जब्त किए हैं. उसके पास से एक पिस्टल भी मिली है

इंदौर.इंदौर (indore) पुलिस ने एक ऐसे आरोपी को पकड़ा है जो जाली नोट (fake note) बनाने और बाज़ार में खपा रहा था. ये सारा गोरख़धंधा वो ऑर्डर पर करता था. उसके पास से करीब पौने दो लाख मूल्य के जाली नोट बरामद किए गए हैं. पूछताछ में पता चला है कि उसने यू ट्यूब के ज़रिए जाली नोट बनाना सीखा और अब तक लाखों के जाली नोट बाज़ार में खपा चुका है. पुलिस अब उसके पूरे रैकेट का पता लगा रही है.

इंदौर की आज़ाद अगर थाना पुलिस ने लाखन नाम के युवक को गिरफ्तार किया है. वो उज्जैन का रहने वाला है. उसने पुलिस को बताया कि उसने यू ट्यूब से नकली नोट बनाना सीखा था और अब तक लाखों रुपए बाजार में खपा चुका है. पुलिस को लगातार इस बात की सूचना मिल रही थी कि इलाके में अक्सर अंधेरे या शाम के वक़्त नकली नोट खपाने एक युवक बाजार में आता है. पुलिस ने जानकारी मिलते ही इलाके की घेराबंदी कर दी और संदिग्ध युवक के आने का इंतज़ार किया. कुछ ही देर में एक युवक वहां पहुंच गया. पुलिस ने तत्काल घेराबंदी कर उसे पकड़ लिया. जैसे ही उसकी तलाशी ली उसके पास से 500 और 2000 के लगभग 190 नकली नोट बरामद किए गए.

प्रिंटर और नोट ज़ब्त
आरोपी जाली नोटों की ये खेप लेकर बाजार में खपाने आया था. पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की और उसके बताए हुए ठिकाने से कलर प्रिंटर सहित अन्य वह चीजें ज़ब्त की जो नोट छपने में वो इस्तेमाल करता था. पुलिसिया पड़ताल में आरोपी के पास से एक पिस्टल भी बरामद हुई है.ऑर्डर पर छप रहे थे जाली नोट

पुलिस आरोपी के अन्य सहयोगियों के बारे में जानकारी जुटा रही है. जानकारी मिली है कि उसके गिरोह  के कुछ लोग बाहरी शहरों में भी सक्रिय हैं जो ऑर्डर लेकर नोट सप्लाय करते थे.पुलिस आरोपी को रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है. आशंका  है कि जल्द ही गिरोह के अन्य सदस्य भी पुलिस की हिरासत में होंगे.

गिरोह की तलाश
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शशिकांत कनकने के मुताबिक़ आज़ाद नगर थाना प्रभारी मनीष डाबर ने आरोपी को गिरफ्तार किया. पुलिस ने आरोपी के कब्जे से  एक लाख 91 हजार से अधिक कीमत के नोट जब्त किए हैं. उसके पास से एक पिस्टल भी मिली है. पुलिस जानकारी जुटा रही है कि यह पिस्टल आरोपी के पास कहां से आयी. पुलिस सभी पहलू की जांच कर रही है. उसे उम्मीद है कि जल्द ही इस आरोपी से जुड़े गैंग का खुलासा हो जाएगा और बाकी सदस्य भी उसकी गिरफ्त में होंगे.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close