देश

असम बाढ़: तीन व्यक्तियों की डूबने से मौत, मरने वालों की संख्या 133 हुई, 16.55 लाख लोग प्रभावित

Image Source : PTI
Assam flood: Death toll rises to 133 as 3 persons drown; 16.55 lakh remain affected

गुवाहाटी: असम में बाढ़ के पानी में डूबने से तीन लोगों की मौत हो गई। राज्य में बाढ़ की स्थिति में सुधार होने के बावजूद 21 जिलों के करीब 17 लाख लोग इससे प्रभावित हैं। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) द्वारा बुधवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार, बारपेटा, कोकराझार और कामरुप जिलों में डूबने से एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। 

बुलेटिन के अनुसार, राज्य में बाढ़ और भूस्खलन से अभी तक 133 लोगों की मौत हुई है। इनमें से 107 लोगों की मौत बाढ़ जनित घटनाओं में हुई है वहीं 26 लोग की मौत भूस्खलन के कारण हुई है। प्राधिकरण के अनुसार, धेमाजी, लखीमपुर, बिस्वनाथ, दरांग, बक्सा, बारपेटा, चिरांग, बोंगाईगांव, कोकराझार, धुबरी, दक्षिण जोरहाट, माजुली, शिवसागर और डिब्रूगढ़ जिलों में 16.55 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। 

गोपालपारा जिला बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित है जहां 4.19 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हैं वहीं मोरीगांव में 2.63 लाख से ज्यादा और दक्षिण सालमारा में करीब 2.50 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। मंगलवार तक राज्य के 21 जिलों के 19.81 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ से प्रभावित थे।

असम विधानसभा का सत्र 31 अगस्त से 

असम विधानसभा का सत्र 31 अगस्त से आयोजित किया जाएगा। सरकारी विज्ञप्ति में बुधवार को कहा गया कि सत्र सुबह साढ़े नौ बजे शुरू होगा। असम विधानसभा के प्रधान सचिव एम कुमार डेका ने संपर्क करने पर बताया कि कार्यमंत्रणा समिति (बीएसी) सत्र की अवधि पर फैसला करेगी। डेका ने कहा, ” बीएसी की बैठक 18 अगस्त को होगी और सत्र तथा इसमें होने वाले कार्यों को अंतिम रूप देगी। इसे मानसून सत्र कहा जाएगा या नहीं, इसका फैसला भी बीएसी करेगी।” 

कोरोना से जंग : Full Coverage




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close