विदेश

अमेरिकी अंतरिक्ष यात्रियों ने स्पेसएक्स के कैप्सूल में समुद्र में उतरने के लिए तैयारी की

अमेरिकी अंतरिक्ष यात्रियों ने स्पेसएक्स के कैप्सूल में समुद्र में उतरने के लिए तैयारी की (प्रतीकात्मक तस्वीर)

स्पेसएक्स और नासा (NASA) की 45 वर्ष में पहली बार किसी अंतरिक्ष यात्री (Space Traveler) को सीधे समुद्र में उताने की योजना है और ऐसी ही वापसी की तैयारी कर रहे अमेरिका के दो अंतरिक्ष यात्रियों ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने ‘सीसिक बैग’ तैयार कर लिए हैं.

केप केनवरल. स्पेसएक्स (Spaceex) और नासा (NASA) की 45 वर्ष में पहली बार किसी अंतरिक्ष यात्री (Space Traveler) को सीधे समुद्र में उताने की योजना है और ऐसी ही वापसी की तैयारी कर रहे अमेरिका के दो अंतरिक्ष यात्रियों ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने ‘सीसिक बैग’ तैयार कर लिए हैं.  सी सिकनेस दरअसल पानी में यात्रा के दौरान मितली, उल्टी और चक्कर आने जैसी समस्याओं को कहते हैं और ऐसे हालात में सीसिक बैग का इस्तेमाल किया जा सकता है.

ड्रैगन को मैक्सिको की खाड़ी में उतारने की योजना

स्पेसएक्स और नासा की रविवार दोपहर डाउग हर्ले और बॉब बेनकेन को कंपनी के ड्रैगन कैप्सूल में मैक्सिको की खाड़ी में उतारने की योजना है. फ्लाइट कन्ट्रोलर्स चक्रवात इसाइएस पर करीब से नजर रख रहे हैं, जिसके फ्लोरिडा के पूर्वी तट पर आने की आशंका है और जहां उन्हें उतारने की योजना है वह स्थान फ्लोरिडा के करीब है.

हर्ले और बेनकेन लहरों में बीमार पड़ गएहर्ले ने कहा कि अगर वह और बेनकेन लहरों में बहते हुए बीमार पड़ गए तो यह चालक दल के लिए कोई नयी बात नहीं होगी. इससे पहले 1970 में स्काईलैब से आने वाले अंतरिक्ष यात्री भी समुद्र में उतरने के बाद बीमार पड़ गए थे. हर्ले ने अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन से चालक दल के अंतिम संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पानी में लैंड करने पर बीमार महसूस करना साधारण बात है.’

कैप्सूल 31 मई से अंतरिक्ष स्टेशन पर है

यह स्पेसएक्स का अतंरिक्ष यात्रियों को सीधे समुद्र में लैंड कराने का पहला मौका है. लैंडिंग के साथ ही 30 मई को नासा के कैनेडी स्पेस सेंटर से शुरू हुई. दो माह की टेस्ट फ्लाइट का समापन हो जाएगा. करीब एक दशक के बाद अमेरिका से किसी चालक दल की यह पहली उड़ान थी. अंतरिक्ष यात्रियों को ले जाने वाला कैप्सूल 31 मई से अंतरिक्ष स्टेशन पर है.

एक घंटा ड्रैगन कैप्सूल पानी में रहेगा 

हर्ले ने कहा कि ड्रैगन के आपातकाल तथा अन्य उपकरणों की ठीक तरह से जांच कर ली गई है. लांच और गंतव्य तक पहुंचने में कोई बाधा नहीं हुई तो हम उम्मीद कर रहे हैं कि सागर में उतरने में भी कोई दिक्कत नहीं होगी. ड्रैगन कैप्सूल करीब एक घंटे तक पानी में रहेगा और इसके बाद इसे एक क्रेन के जरिए निकाल कर स्पेसएक्स रिकवरी शिप पर रखा जाएगा. इस दौरान फ्लाइट सर्जन और रिकवरी दल के सदस्य मौजूद रहेंगे.

ये भी पढ़ें: अयोध्या में भूमि पूजन के अवसर पर अमेरिका में होगी ऑनलाइन राष्ट्रीय प्रार्थना

ब्रिटेन: रेस्टोरेंट में खाने खर्च का हुआ आधा, 50% बिल सरकार भरेगी

बेनकेन ने संवाददाताओं से कहा कि जब तक हमारे पास लैंडिंग के बेहतर विकल्प नहीं होंगे, हम अंतरिक्ष स्टेशन से रवाना नहीं होंगे. स्प्लैशडाउन के लिए मौसम अच्छा है.




Source link

Tags

Related Articles

Back to top button
Close